Author Archives: indra

बेचारों के जंगल में -५

८.१०.२०१७ पंजाब के किसान, एक समय परिश्रम और श्रेष्ठ उत्पादकता के मिशाल थे, उसका लाभ भी उन्हें मिलता गया, निम्नतम समर्थन मूल्य बढ़ता रहा, प्रान्त की सरकार से उपर से बोनस, बिजली के ख़र्च की माफ़ी मिली, सरकारी क़र्ज़ भले … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

Make in India with Japan

Today, India must be very careful in importing engineering capital goods from China, particularly in heavy engineering sector such as power equipment, which some power projects have resorted to. It may be very costly to the country ultimately. This is … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

Make in India: Can New Defence Minister Make It Happen

I sent this mail to rmo.mod.nic.inI request and wish Defence Minister visits key production units such as HAL that manufactures Tejas and Helicopters and key ordnance factories producing guns such Dhanush , Avadi manufacturing Arjuna Tank and Shipyards building Air … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

Make in India -Potential of India as Defence Manufacturing Power

India with consistent focus can easily become a Defence Manufacturing Power: (Part1) Make-in-India could have pushed the country on the track by now. However, the built-in delaying features of bureaucratic rules along with the status-quo mindsets of the people who … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

बिचारों के जंगल में-४

25.8.2017 कैसे ये गुरू देश के करोड़ों पुरूषों महिलाओं को बेवक़ूफ़ बना अपने राजसुख का उपभोग करते हैं? जीवन के चार लक्ष्यों -धर्म, अर्थ, काम, मोक्ष में दो – काम और अर्थ का ख़ुद सम्पूर्ण फ़ायदा उठाते हैं और बेवक़ूफ़, … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

बिचारों के जंगल में-३

27.7.2017 नीतिश फिर से राजा बन गये उन्हीं का साथ ले जिन्हें वे अकारण छोड़ गये थे क्योंकि राजनीति में कोई लड़ाई ब्यक्ति बिशेष से तो होनी ही नहीं चाहिये अगर वह परिवार या जाति राज न चलाता हो. उस … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

बिचारों के जंगल में-२

२७.६.२०१७ मेरे बिचार से श्रीमती मीरा कुमार को राम नाथ कोविन्द के बिरूद्ध राष्ट्रपति पद के चुनाव से हट जाना चाहिये, जब कि बिहार के मुख्य मंत्री तक उनके साथ नहीं हैं. केवल सोनिया गांधी के दबाव में उनकी प्रतिद्वंदिता … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment